Maa Durga Shlokas with Hindi Meaning

माँ दुर्गा के श्लोक

 

माँ दुर्गा के श्लोक 1

सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके ।
शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥

 

Sarva Mangal Maangalye Shive Sarvaarthe-Sadhike ,
Sharannye TryaAmbake Gauri Narayani Namoastute .

 

Hindi Meaning of Shlok: इस श्लोक में सर्व ( सभी ) के कल्याण हेतु देवी माँ को नमन किया जाता है | इस श्लोक का अर्थ है सभी का मंगल करने वाली देवी, सभी के कार्यों में मंगल फल देने वाली मंगलदायिनी देवी तथा सभी को शरण देने वाली तीन नेत्रों वाली और अत्यंत सुंदर दिखने वाली हे नारायणी! हम आपको नमन करते है ।

 

Read : Maa Durga ke 9 Roop

 

दुर्गा माँ के श्लोक 2

या देवी सर्वभुतेषु मातृरूपेण संस्थिता ।
या देवी सर्वभुतेषु शांति रूपेण संस्थिता ।
या देवी सर्वभुतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता ।
या देवी सर्वभुतेषु बुद्धिरूपेण संस्थिता ।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ॥

 

Ya Devi Sarva-bhutesu, Matri Rupen Sansthita
Ya Devi Sarva-bhutesu, Shanti Rupen Sansthita
Ya Devi Sarva-bhutesu, Shakti Rupen Sansthita
Yaa Devi Sarva-bhutesu, Buddhi Rupen Sangsthita
Namastasyai, namastasyai, namastasyai, namo namah

 

Hindi Meaning of Shlok:

माँ रूप में हर जगह रहने वाली हे देवी , शांति रूप में हर जगह रहने वाली हे देवी , शक्ति रूप में सब मे रहने वाली हे देवी , बुधि रूप में सब मे रहने वाली हे देवी , आपको हमारा नमस्कार है , आपको हमारा नमस्कार है , आपको हमारा नमस्कार है , बार -बार ||

 

More Coming Soon

2 thoughts on “Maa Durga Shlokas with Hindi Meaning

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *